टाटा स्‍टारबक्‍स ने 2018 में कोलकाता में प्रवेश करने के साथ भारत में विकास और सोशल इम्‍पैक्‍ट प्रोग्राम को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दोहराई

टाटा स्‍टारबक्‍स प्राइवेट लिमिटेड जोकि स्‍टारबक्‍स कॉफी कंपनी (नैस्‍डैक: एसबीयूएक्‍स) और टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज लिमिटेड के बीच 50/50 संयुक्‍त उपक्रम है, ने आज मुंबई में अपने 100वें स्‍टोर के शुभारंभ का जश्‍न मनाया। साथ ही कंपनी ने भारत में अपनी पांचवी वर्षगांठ का भी उत्‍सव मनाया। इसके अंतर्गत, कई महत्‍वपूर्ण पहलों को लाया गया जोकि बाजार में कंपनी की दीर्घकालिक प्रतिबद्धता की पुष्टि करती हैं।
 
इस प्रेस विज्ञप्ति में मल्‍टीमीडिया की सुविधा है। पूरी विज्ञप्ति यहां देखें : http://www.businesswire.com/news/home/20171024005885/en/

टाटा स्‍टारबक्‍स साझीदार (कर्मचारियों) से घिरे हुये, (बायें से दायें) अजय मिश्रा, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक, टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज; हरीश भट, ब्रांड कस्‍टोडियन, टाटा संस; जॉन कल्‍वर, समूह अध्‍यक्ष, स्‍टारबक्‍स इंटरनेशनल और चैनल डेवलपमेंट; सुमी घोष, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, टाटा स्‍टारबक्‍स, ने विक्‍टोरिया मिल्‍स स्‍टोर के शुभारंभ- मुंबई, भारत में 100वां स्‍टोर है- और भारतीय बाजार में कंपनी की पांचवी वर्षगांठ का जश्‍न मनाया। (फोटो: बिजनेस वायर)
 
जॉन कल्‍वर, समूह अध्‍यक्ष, स्‍टारबक्‍स इंटरनेशनल और चैनल डेवलपमेंट ने कहा, “टाटा के साथ हमारी यात्रा जारी है। यह ऐसी कंपनी है जोकि विकास के लिए समान मूल्‍य एवं दृष्टिकोण साझा करती है। हम स्‍टारबक्‍स के बेजोड़ अनुभव के जरिये अपने भारतीय ग्राहकों का भरोसा एवं सम्‍मान प्राप्‍त करने के लिए प्रतिबद्ध बने हुये हैं। इस अनुभव के केन्‍द्र में हमारे भारतीय साझीदार हैं जोकि पूरे गर्व के साथ दुनिया भर में 330,000 से अधिक स्‍टारबक्‍स साझीदारों का प्रतिनिधित्‍व करते हैं। उनके समर्पण एवं जुनून की मदद से हमने स्‍टारबक्‍स के लिए एक मजबूत नींव खड़ी की है। हम आने वाले सालों में भारत के नये शहरों में विस्‍तार करेंगे।”
 
टाटा स्‍टारबक्‍स देश भर में अधिक से अधिक ग्राहकों को सेवायें प्रदान करने के लिए आगे बढ़ रही है, कंपनी 2018 की शुरुआत में कोलकाता के ऐतिहासिक शहर में तीन स्‍टोर्स खोलेगी। इसमें प्रतिष्ठित पार्क मैन्‍शन में भी एक स्‍टोर शामिल है जोकि स्‍टारबक्‍स की कॉफी की धरोहर को परिलक्षित करेगा। स्‍टारबक्‍स के स्‍टोर्स शहर में हाथ से बने सिग्‍नेचर पेय, व्‍यापक फूड पेशकश और विशिष्‍ट “थर्ड प्‍लेस” प्रदान करेंगे।
 
अवसरों की राह
 
टाटा स्‍टारबक्‍स निरंतरविकास की राह पर अग्रसर है। इसकी प्रतिबद्धता भारतीयों की भावी सफलता में योगदान करने के लिए एक सकारात्‍मक बल बनने की है। कंपनी द्द्वारा साझीदारों (कर्मचारियों) की संख्‍या दुगुनी करने की संभावना है। अगले पांच सालों इसमें 3,000 लोगों को नियुक्‍त किया जायेगा और प्रगतिशील कार्यस्‍थल बनने की इसकी प्रतिबद्धता पर जोर देते हुये, इसका उद्देश्‍य 2022 तक अपने कार्यबल में महिलाओं की हिस्‍सेदारी को बढ़ाकर 40 प्रतिशत पहुंचाना है। य‍ह वर्तमान से 25 प्रतिशत अधिक है। पसंदीदा नियोक्‍ता बनने की टाटा स्‍टारबक्‍स की आकांक्षा को पूरा करने के लिए इसे मौजूदा पहलों निर्मित किया गया है। कंपनी 2016 में उद्योग-अग्रणी फायदों जैसे कि अपनी तरह का अनूठा कार्यक्रम पांच दिन काम करने का शेड्यूल लेकर आई।
 
सुमी घोष, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, टाटा स्‍टारबक्‍स ने कहा, “हमारी कामयाबी हमारे असाधाराण साझीदारों द्वार परिभाषित है जिन्‍हें हमारे ग्राहकों को बेहद सतर्कता एवं जोश के साथ उत्‍पाद परोसेने में गर्व होता है। निरंतर विकास के साथ, हमारी महत्‍वाकांक्षा बाजार में सबसे पसंदीदा नियोक्‍ता बनना है। इसके लिए हम अपने साझीदारों के लिए निवेश करेंगे और देश में लोगों के लिए सुनहरे अवसरों का निर्माण करेंगे।”
 
कंपनी भारतीय समुदाय के साथ अपने संबंधों को भी मजबूत बनाना जारी रखेगी और सबसे अधिक मायने रखने वाले घरेलू सरोकारों में बदलाव लाने के लिए अपनी व्‍यापक उपस्थिति का लाभ उठायेगी। अगले पांच सालों में, टाटा स्‍टारबक्‍स टाटा स्‍ट्राइव प्रोग्राम के माध्‍यम से 3,000 युवाओं को शिक्षित करेगी जिन्‍हें रोजगार में बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है। इस गठबंधन में जॉब स्किल प्रशिक्षण और खुदरा परिचालन में स्‍टारबक्‍स की विशेषज्ञता का संयोजन किया गया है।
 
अजय मिश्रा, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक, टाटा ग्‍लोबल बेवरीज ने कहा, “स्‍टारबक्‍स के साथ हमारा सफर काफी आनंददायक रहा है और यह टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज एवं स्‍टारबक्‍स के लिए यादगार पल है। हमें हमारे व्‍यावसायिक मूल्‍यों के हमारे साझा बोध एवं गुणवत्‍ता पर केंद्रण पर गर्व होता है। हम भारत में निरंतर विकास के अवसरों को लेकर बहुत अधिक आशावादी हैं।”
 
भारत में 100वें स्‍टारबक्‍स स्‍टोर का जश्‍न
 
टाटा स्‍टारबक्‍स का 100वां स्‍टोर मुंबई के प्रमुख वाणिज्यिक केन्‍द्र विक्‍टोरिया मिल्‍स(कमला मिल्‍स) में स्थित है। इसमें नक्‍काशी वाली वुड वॉल आर्ट है जोकि भारत की कॉफी विरासत का सम्‍मान करती है। स्‍टोर के धूसर रंग और प्राकृतिक लकड़ी की सामग्रियां एक सुंदर परिवेश का निर्माण करती है जोकि ग्राहकों को आराम करने और जुड़ने के लिए आमंत्रित करता है। यह स्‍टोर भारत में पहला स्‍टारबक्‍स है जोकि स्‍टारबक्‍स® नाइट्रोकोल्‍ड ब्रू को परोसेगा। यह एक स्‍माल—बैच कोल्‍ड ब्रू कॉफी है जिसे पूरी रात भिगोकर रखा जाता है और फिर इसे नाइट्रोजन के साथ मिलाया जाता है ताकि एक स्‍वाभाविक मीठा स्‍वाद आ सके और आपको एक अनोखा अनुभव मिले। 100वें स्‍टोर में टेकअवे बैग्‍स को सृष्टि से मंगाया गया है। यह एक पहल है जोकि पौधारोपण कर्मचारियों के परिवारों के दिव्‍यांग युवाओं के लिए आजीविका के अवसर पैदा करती है।
 
अपने 100वें स्‍टोर के शुभारंभ का जश्‍न मनाने के लिए, टाटा स्‍टारबक्‍स भारत का पहला यू आर हियर-मुंबई-सिरैमिक मग्‍स की पेशकश कर रहा है। गेटवे ऑफ इंडिया, मरीन ड्राइव, वर्ली सी लिंक,फ्‍लोरा फाउंटेन, ताज महल पैलेस जैसे विशिष्‍ट स्‍थानीय स्‍थानों से प्रेरित और मुंबई की प्रतिष्ठित काली-पीली टैक्‍सी से युक्‍त डिजाइन सार्वभौमिक लोगों के जोश को दर्शाती है।
 
100वें स्‍टोर के शुभारंभ और भारतीय बाजार में पांचवी वर्षगांठ मनाने के जश्‍न में, टाटा स्‍टारबक्‍स द्वारा 25 अक्‍टूबर से 6 नवंबर तक देश के सभी स्‍टोर्स में गोल्‍डन स्‍पार्कल फ्रैप्‍यूचिनो® ब्‍लेंडेड बेवरेज की भी पेशकश की जा रही है। गोल्‍डन स्‍पार्कल फ्रैप्‍यूचिनो® एक एस्‍प्रेसो है जिसे रिच मोचा सॉस के साथ मिलाया गया है और इसके ऊपर व्हिप्‍ड क्रीम डाली गई है तथा खूबसूरत गोल्‍ड-शुगर डस्टिंग स्प्रिंकल की गई है। इस उपलब्धि के सम्‍मान में, 28 अक्‍टूबर को भारत के सभी स्‍टोर्स में कोई भी छोटे या बड़े आकार का पेय 100 रुपये (1.50 अमेरिकी डॉलर) में उपलब्‍ध होगा।
 
स्‍टारबक्‍स ने 2012 में मुंबई में हॉरनीमैन सर्कल में अपना पहला स्‍टोर खोलकर भारत में प्रवेश किया था। वर्तमान में, स्‍टारबक्‍स के स्‍टोर्स भारत के 6 प्रमुख शहरों : मुंबई, पुणे, हैदराबाद, चेन्‍नई, दिल्‍ली और बेंगलुरू में स्थित हैं।
 
स्‍टारबक्‍स के विषय में
 
1971 से, स्‍टारबक्‍स कॉफी कंपनी नीतिगत रूप से उच्‍च गुणवत्‍ता की एरेबिका कॉफी की सोर्सिंग एवं रोस्टिंग को लेकर प्रतिबद्ध है। वर्तमान समय में इसके स्‍टोर्स दुनिया भर में मौजूद हैं। कंपनी दुनिया में स्‍पेश्‍यलिटी कॉफी की प्रमुख रोस्‍टर एवं खुदरा विक्रेता है। उत्‍कृष्‍टता को लेकर हमारी अटल प्रतिबद्धता और हमारे मार्गदर्शक सिद्धान्‍तों के जरिये, हम प्रत्‍येक कप में हर ग्राहक के लिए एक अनूठा स्‍टारबक्‍स एक्‍सपीरिएंस लेकर आते हैं। इस अनुभव को साझा करने के लिए कृपयाहमारे स्‍टोर्स में पधारें, Starbucks.com पर ऑनलाइन जायें और स्‍टारबक्‍स न्‍यूजरूम देखें।
 
टाटा स्‍टारबक्‍स प्राइवेट लिमिटेड के विषय में
 
स्‍टारबक्‍स ने अक्‍टूबर 2012 में टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज के साथ 50/50 संयुक्‍त उपक्रम के माध्‍यम से भारतीय बाजार में प्रवेश किया था। फिलहाल भारत में मुंबई, दिल्‍ली एनसीआर, हैदराबाद, चेन्‍नई, बेंगलुरु और पुणे में 1,600 जोशपूर्ण साझीदारों (कर्मचारियों) के नेटवर्क के जरिये इसके 100 स्‍टोर्स का परिचालन किया जा रहा है। स्‍टारबक्‍स के स्‍टोर्स का परिचालन संयुक्‍त उपक्रम टाटा स्‍टारबक्‍स प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा किया जाता है। और इसकी ब्रांडिंग स्‍टारबक्‍स कॉफी – “ए टाटा एलाएंस” के तौर पर की जाती है।
 
टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज के विषय में
 
टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज एक वैश्विक पेय व्‍यावसाय है जिसने 40 से अधिक देशों में अपनी ब्रांड उपस्थिति दर्ज करा रखी है। कंपनी को चाय, कॉफी और जल में काफी रुचि है और यह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी चाय कंपनी है। इसके ब्रांडों की 300 मिलियन से अधिक सर्विंग्‍स की खपत रोजाना दुनिया भर में होती है। टाटा ग्‍लोबल बेवरेजेज की सालाना बिक्री 1.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर है और समूचे विश्‍व में इसमें 3,000 लोग काम करते हैं। कंपनी प्राकृतिक पेयों पर ध्‍यान केन्द्रित करती है, और इसके पास खोजपरक क्षेत्रीय एवं वैश्विकपेय ब्रांड हैं जिनमें शामिल हैं : टाटा टी, टेटली, हिमालयन नैचुरल मिनरल वाटर, टाटा ग्‍लूको+, गुड अर्थ टी, ग्रैंड कॉफी और ऐट ओ’ क्‍लॉक कॉफी। अधिक जानकारी के लिए देखें www.tataglobalbeverages.com.

businesswire.com पर सोर्स विवरण देखें : http://www.businesswire.com/news/home/20171024005885/en/

 
मल्‍टीमीडिया उपलब्‍ध है : http://www.businesswire.com/news/home/20171024005885/en/
संपर्क :
स्‍टारबक्‍स कॉफी कंपनी
मैरिएन ड्युऑन्‍ग, +1-206-318-7100
press@starbucks.com

You may also like...

Leave a Reply